अखिलेश यादव ने इस बार अपर्णा यादव को टिकट क्यों नहीं दिया?

60
SHARE

समाजवादी पार्टी ने लखनऊ कैंट विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव का टिकट काट कर चौंका दिया है। लखनऊ की कैंट विधानसभा सीट पर उपचुनाव बीजेपी की रीता बहुगुणा जोशी के सांसद बन जाने से चलते इस्तीफा देने से हो रहा है। 2017 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में अपर्णा यादव ही यहां से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार थीं जो दूसरे नंबर पर रही थीं।

अपर्णा यादव को इस सीट से फिर दावेदार माना जा रहा था, क्योंकि वह मुलायम सिंह की बहू हैं और पिछला चुनाव भी यहां से लड़ चुकी हैं, मुलायम ने पिछले विधानसभा चुनाव में सिर्फ तीन विधानसभा सीटों पर प्रचार किया था जिनमें एक अपर्णा की लखनऊ कैंट की सीट भी थी लेकिन समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस सीट से आशीष चतुर्वेदी की उम्मीदवारी का ऐलान कर दिया है।

अपर्णा यादव मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना यादव के बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं। मुलायम परिवार में अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव में झगड़ा है। अक्सर देखा गया है कि अपर्णा भले ही अखिलेश यादव के खिलाफ खुलकर कभी कुछ नहीं बोलती हैं, लेकिन चाचा शिवपाल के लिए उनका सॉफ्ट कार्नर माना जाता है और वह उनके साथ कई मंचों पर दिखाई भी दी हैं।

https://youtu.be/Pz9UDDfOGQw

कुछ लोग अपर्णा को टिकट नहीं दिए जाने को विवादों से जोड़ कर देख रहे हैं लेकिन कहा यह भी जा रहा है कि अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी को एक नया रूप देने की कोशिश में हैं जिसमें वह परिवारवाद जैसे आरोपों से बचना चाहते हैं और अपर्णा को टिकट नहीं देना इसी का हिस्सा है।