ओमप्रकाश राजभर ने भाजपा से मनवा लीं ज्यादातर मांगें, खत्म हुई नाराजगी

695
SHARE

महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद अब भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश पर फोकस कर दिया है और पहली बार में ही काफी दिनों से नाराज चल रही सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर की नाराजगी को दूर कर दिया है। दिल्ली में बुधवार देर रात तक भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की ओम प्रकाश राजभर के बेटे के साथ हुई बैठक के बाद माना जा रहा है कि राजभर की नाराजगी दूर हो गई है।

दिल्ली में बुधवार देर रात राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा दोनों उपमुख्यमंत्री और ओमप्रकाश राजभर के बेटे अरविंद राजभर के साथ अमित शाह की हुई बैठक में ज्यादातर मुद्दों पर सहमति बन गई है। बैठक में बीजेपी नेतृत्व ने ओमप्रकाश राजभर की कई मांगें मान ली है। इस मुलाकात के बाद लखनऊ के राज भवन कॉलोनी में ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के कार्यालय के लिए 2 नंबर, राज भवन कॉलोनी का टाइप-6 का बंगला दे दिया गया।

इसके साथ ही पिछड़ा वर्ग आयोग में राजभर के करीब आधा दर्जन लोगों को शामिल कर उसका सदस्य बनाया जाएगा। ओमप्रकाश राजभर के विधानसभा क्षेत्र में महीनों से रूके पड़े विकास कार्यों को सीधा शुरू किया जाएगा।

राजभर की अब जिन मुद्दों पर नाराजगी बरकरार है वह आरक्षण में बंटवारे और लोकसभा चुनाव में सीटों का मसला है। राजभर ने चंदौली, घोसी और सलेमपुर लोकसभा सीट पर अपना दावा ठोक रखा है, लेकिन खबरें हैं कि बीजेपी सिर्फ एक सीट पर तैयार है, इस पर 26 फरवरी को तस्वीर साफ होने के आसार हैं।