ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम यूपी विधानसभा उप चुनावों में हिस्सा लेगी

27
SHARE

यूपी में विधानसभा की 13 सीटों पर जल्दी ही उपचुनाव होने हैं, सभी राजनीतिक दलों ने इसके लिए तैयारियां तेज कर दी हैं। सपा-बसपा गठबंधन के टूट जाने के बाद और उपचुनाव में बसपा के भी हिस्सा लेने के ऐलान से इस बार चुनाव तीन-तरफा रहेगा। इस बीच हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुसलमीन ने भी उपचुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

एआईएमआईएम के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शौकल अली ने जानकारी ही है कि उनकी पार्टी विधानसभा उपचुनाव में हिस्सा लेगी और अपने उम्मीदवार उतारेगी। एआईएमआईएम के मैदान में उतरने से कई सीटों पर मुकाबले में नया मोड़ आ सकता है। इन उपचुनावों में मुसलमान वोटरों पर हर पार्टी की नजर है। बसपा की रणनीति दलित-मुस्लिम गठजोड़ की है तो समाजवादी पार्टी अपने पुराने वोटबैंक को किसी कीमत पर बंटने देना नहीं चाहती।

एआईएमआईएम की मौजूदगी मुख्य रूप से सपा-बसपा को ही परेशान करने वाली है क्योंकि मुख्य रूप से मुसलमान वोटबैंक की राजनीति करने वाली यह पार्टी भी जय मीम, जय भीम का नारा देती रही है। पार्टी ने अपनी सक्रियता बढ़ा भी दी है। पिछले हफ्ते ही अंबेडकरनगर के टांडा में पार्टी ने एक जनसभा का आयोजन किया था जिसमें भाजपा और राज्य की योगी सरकार के कामकाज पर सवाल उठाए गए थे।

ओवैसी की पार्टी राज्य में भले ही अभी तक जीत का स्वाद नहीं चख पाई है लेकिन धीरे-धीरे यह ऐसी स्थिति में आ चुकी है कि कुछ विधानसभा सीटों पर यह दूसरों का खेल बिगाड़ सकती है। बहरहाल उपचुनाव के लिए यह किसी दल के साथ गठबंधन करेगी या नहीं यह अभी साफ नहीं है।