कोरोना अपडेट व आज 19 मई की बड़ी खबरें

16
SHARE

कोरोना संक्रमण के 158 नए मामलों के साथ उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4511 हो गई है। इनमें से 2636 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं जबकि सक्रिय मामलों की संख्या 1763 है। प्रदेश में अब तक कोरोना से 112 मरीजों की मौत हो चुकी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना टेस्टिंग क्षमता को बढ़ाकर 10 हजार टेस्ट प्रतिदिन किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों में सभी वेंटीलेटरों को क्रियाशील रखा जाए। वेंटीलेटर को संचालित करने वाले चिकित्सकों और पैरामेडिक्स को प्रशिक्षित किया जाए। साथ ही कोविड चिकित्सालयों की बेड क्षमता को बढ़ाकर 01 लाख बेड किया जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले एक सप्ताह में 590 श्रमिक स्पेशल ट्रेन देश के विभिन्न राज्यों से प्रवासी कामगारों/श्रमिकों को लेकर आ गई हैं। राज्य सड़क परिवहन निगम की 12 हजार बसों के माध्यम से प्रवासी कामगारों/श्रमिकों को उनके गृह जनपद में भेजने की व्यवस्था की गई है।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि लॉकडाउन 4.0 के इस बद से बदतर हालात में भी प्रदेश सरकार सोच रही है कि ‘सब नियंत्रण में है’. अगर सरकार इसे व्यवस्था कहती है तो फिर उसे त्यागपत्र दे देना चाहिए. कहीं गौशाला तक में लोग रोक के रखे जा रहे हैं, तो कहीं सीमाओं पर बच्चे बिलख रहे हैं. उन्होंने सवाल किया है कि क्या इसी नये रूप-रंग की बात हुई थी.

लॉकडाउन की वजह से उत्तर प्रदेश सरकार के राजस्व में भारी कमी देखने को मिल रही है। इसे देखते हुए योगी सरकार ने अपने खर्च में बड़ी कटौती शुरू कर दी है. इसके तहत अफसरों के हवाई जहाज में एक्सीक्यूटिव क्लास और बिजनेस क्लास में चलने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है. यही नहीं तमाम विभागों में ऐसे पदों की खोज शुरू हो गई है जिन्हें खत्म किया जा सके.ऐसे पदों पर तैनात लोगों को अन्य जगह समायोजित किए जाने की तैयारी है.

यूपी सरकार ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का वह प्रस्ताव मंजूर कर लिया है जिसमें उन्होंने कहा था कि प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए कांग्रेस नोएडा और गाजियाबाद से एक हजार बसें चलाने का प्रस्ताव करती है। अपर मुख्य सचिव गृह की तरफ से पत्र जारी कर प्रियंका गांधी के निजी सचिव से बसों की सूची, चालक व परिचालक का नाम व अन्य विवरण मांगा गया है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को धमकी मिली है। उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी दी गई, इस मामले में उन्होंने गाजीपुर के कासिमाबाद थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष बाबू सिंह कुशवाहा ने कहा है कि सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को जान से मारने की धमकी मिलना बहुत ही निंदनीय है। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और यूपी पुलिस से मांग की है कि कृपया ओमप्रकाश राजभर की सुरक्षा सुनिश्चित करे

आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर ने कहा है कि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को जान से मारने की धमकी बहुजनों की मजबूत आवाज को धमकी से खामोश करना है। उन्होंने कहा कि वह जानते हैं कि ओम प्रकाश राजभर इन गीदड़भभकी से झुकने वाले नहीं हैं।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए निशाना साधा है। शिवपाल सिंह यादव ने ट्वीट किया है कि ‘मदिरालयों में भीड़ है व देवालय सूने पड़े हैं! लॉकडाउन के बावजूद भी कोरोना का विस्तार जारी है, जब मानवीय सामर्थ्य व सीमाएं चूकने लगें तो बेहतर हो कि सभी उपासना स्थलों में स्वास्थ्य निर्देशों के साथ पूजा व इबादत की इजाजत दी जाए. शायद ईश्वर ही इस वैश्विक आपदा से निजात दिला सकें.