कोरोना पर प्रहार के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को दिए ऐसे निर्देश

9
SHARE

पटना में कोरोना वायरस के आठ नए मामले सामने आने से एक तरफ सनसनी मच गई है वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना के खिलाफ जंग को और धार देते हुए मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि सभी जिलों के अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड की क्षमता बढ़ाई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा है कि सभी जिलों में क्वारंटाइन सुविधा भी बढ़ाएं साथ ही ट्रैकिंग, ट्रेसिंग और टेस्टिंग गहनता से हो, यह भी सुनिश्चित कराएं, तभी कोरोना संक्रमण की चेन टूटेगी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना को लेकर बुधवार को मुख्य सचिव एवं अन्य वरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की थी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग पूरी तैयारी रखे और गहन मॉनिटरिंग करे। उन्होंने कहा कि कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का काम बहुत महत्वपूर्ण है। इसकी गंभीरता को समझते हुए इसे तेजी से करें। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता न हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के पॉजिटिव मामले कुछ बढ़ रहे हैं। इससे घबराने की जरूरत नहीं है। कई मामले एक ही संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बढ़े हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि पदाधिकारी संवेदनशीलता के साथ लोगों की समस्याओं पर गौर करें और उन्हें तत्काल मदद दिलाएं। 

इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से अपील की कि लॉकडाउन का पूरी गंभीरता से पालन करें। इससे कोरोना संक्रमण की चेन टूटेगी। लोग इसमें सहयोग करें और अपनी स्क्रीनिंग कराएं। जिन्हें संक्रमण की थोड़ी सी भी आशंका हो, वे प्रो-एक्टिव होकर तुरंत जांच कराएं। अपनी ट्रैवल हिस्ट्री बताएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने में स्वास्थ्यकर्मी तथा फ्रंटलाइन वर्कर्स महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। हम सबका दायित्व है कि उनके साथ विनम्रता से पेश आएं।