परिवहन निगम की बसों में ऐसे सिक्के नहीं लिए तो अधिकारियों पर गिरेगी गाज

107
SHARE

उत्तर प्रदेश में परिवहन निगम की बसों में बिना रुपये के सिंबल वाला 10 रुपये का सिक्का और 1 रुपये का नया (छोटा) सिक्का लेना ही होगा। अगर ऐसा नहीं हुआ तो उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसों के परिचालकों के लिए अब मुसीबत हो सकती है। परिवहन निगम ने लगातार मिल रही शिकायतों के बाद मंगलवार को इसको लेकर आदेश जारी किया है। इसमें राज्य के सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों और सहायक क्षेत्रीय प्रबंधकों को निर्देश दिया गया है कि वह अपने-अपने क्षेत्र में यह सुनिश्चित करें कि बसों में हर तरह के सिक्के लिए जाएं।

इन दोनों तरह के सिक्कों को सिर्फ बसों में ही नहीं बल्कि बाजार में लेन-देन में नहीं लिए जाने की शिकायतें आम हैं। पता नहीं कहा से और कब यह अफवाह फैल गई ऐसे सिक्के वैध नहीं हैं। शिकायतें हैं कि किराने की दुकानों से लेकर सब्जी-दूध की दुकानों पर तक कहीं कोई ऐसे सिक्के नहीं लेता। इस बारे में आरबीआई ने कई बार साफ किया है कि ऐसे सिक्के पूरी तरह वैध हैं और इन्हें लेने से इनकार करना गंभीर अपराध है।

परिवहन निगम की बसों में भी शिकायतें आ रही थीं कि बस कंडक्टर टिकट के बदले इस तरह के सिक्के नहीं ले रहे थे। मंगलवार को ट्विटर के जरिए एक शिकायत मिलने पर प्रदेश के नए परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने परिवहन निगम को निर्देश दिया कि इसको लेकर सख्त निर्देश जारी किए जाएं। इसके बाद निर्देश जारी किए गए हैं कि अधिकारी अपने क्षेत्र में सुनिश्चित करें कि सिक्कों को नहीं लेने जैसी कोई बात सामने न आए।

सिर्फ यही नहीं यात्रियों की सुविधा के लिए सभी तरह के सिक्के यात्रियों से लिए जाएंगे और बकाया राशि लौटाने के दौरान सभी तरह के सिक्के यात्रियों को दिए भी जाएं। परिचालकों की सुविधा के लिए डिपो के कैशरूम में तैनात कर्मचारी भी सिक्के जमा कराते समय सभी तरह के सिक्के लेंगे। परिवहन निगम की ओर से जारी आदेश में अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे इसका कड़ाई से पालन करें और निर्देशों के उल्लंघन पर सभी संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

माना जा रहा है कि इस तरह के सख्त आदेश के बाद हालात सुधरने चाहिए और सभी तरह के सिक्के लेन-देन में इस्तेमाल होने चाहिए। वैसे इस बारे में सिर्फ परिवहन निगम की बसों में ही नहीं बल्कि आम दुकानदारों के लिए भी आदेश आने चाहिए ताकि हर तरह के सिक्के हर जगह प्रचलन में हो। ऐसा होने पर कोई समस्या आएगी ही नहीं।