मोदी सरकार 2 में यूपी से 9 मंत्री

49
SHARE

लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी और उसके सहयोगी को मिलाकर सर्वाधिक 64 सीट दिलाने वाले उत्तर प्रदेश से नौ सांसदों को मोदी सरकार में शामिल किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से सांसद चुने गए हैं, अगर उन्हें भी जोड़ दें तो यह संख्या 10 हो जाती है। मोदी कैबिनेट में जगह पाने वालों में उत्तर प्रदेश से चार कैबिनेट मंत्री, दो स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री और तीन सांसदों को राज्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई है। मंत्री बने सांसदों में दो महिलाएं अमेठी से स्मृति जुबिन ईरानी ने कैबिनेट मंत्री और फतेहपुर से सांसद साध्वी निरंजन ज्योति ने राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली।

मोदी कैबिनेट में जगह पाने वाले उत्तर प्रदेश के सांसदों में पहला नाम राजनाथ सिंह है। उन्होंने पीएम मोदी के ठीक बाद शपथ ली, इससे साफ है कि मोदी सरकार में उनकी हैसियत पिछली बार की तरह से ही नंबर दो की होगी। उनके अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और चंदौली से सांसद डॉ महेंद्रनाथ पांडेय ने भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। पिछली सरकार में वह कुछ वक्त के लिए राज्य मंत्री थे। इसके बाद में उन्हें हटाकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था। यूपी में सपा-बसपा गठबंधन के बावजूद भाजपा की बड़ी जीत का उन्हें इनाम मिला है।

अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हराने वाली स्मृति ईरानी को एक बार फिर कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। पिछली सरकार में स्मृति इरानी मानव संसाधन, कपड़ा मंत्रालय जैसे महत्वपूर्ण पद संभाल चुकी हैं। 43 साल की स्मृति ईरानी मोदी कैबिनेट की सबसे युवा मंत्री भी है।

नई मोदी कैबिनेट में इकलौते मुस्लिम चेहरे राज्यसभा सदस्य मुख्तार अब्बास नकवी हैं। 15 अक्टूबर 1957 को प्रयागराज में जन्मे नकवी ने रामपुर को अपनी कर्मभूमि बनाया। वह 1998 में रामपुर से लोकसभा सांसद भी चुने गए थे। वह वाजपेयी सरकार में भी मंत्री रहे थे और पिछली मोदी सरकार में भी मंत्री थे। यूपी से राज्यसभा सांसद हरदीप सिंह पुरी को भी मोदी कैबिनेट में जगह मिली है, उनको राज्यमंत्री बनाया गया है। वह पिछली सरकार में भी राज्यमंत्री थे।

बरेली से आठ बार सांसद चुने गए संतोष गंगवार को भी मोदी कैबिनेट में जगह मिली है। उन्होंने राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के तौर पर शपथ ली। पिछली सरकार में भी संतोष गंगवार राज्य मंत्री थे। मुजफ्फरनगर से आरएलडी अध्यक्ष अजीत सिंह को हराकर दोबारा जीतने वाले सांसद संजीव बालियान को भी मोदी कैबिनेट में जगह मिली है। उन्होंने राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। फतेहपुर से दोबारा सांसद चुनी गई साध्वी निरंजन ज्योति ने भी राज्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण की। गाजियाबाद से फिर चुनाव जीते जनरल वीके सिंह को भी इस बार भी मोदी कैबिनेट में स्वतंत्र प्रभार के राज्य मंत्री के रूप में जगह मिली है।