14 मई- आर्थिक महापैकेज पर भाजपा और विपक्ष में घमासान व उत्तर प्रदेश की अन्य बड़ी खबरें

13
SHARE

उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 116 नए मामले सामने आए जबकि इतने ही वक्त में 115 मरीज ठीक भी हो गए। इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कुल केसों की संख्या अब 3758 हो गई है।कोरोना से अब तक प्रदेश में कुल 86 मरीजों की मौत हुई हैं।

यूपी सरकार आज से सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम में काम करने वाले सभी उद्यमियों के लिए ऑनलाइन लोन मेला शुरू कर रही है। सीएम योगी ने कहा है कि लगभग 36000 बिजनस पार्टनर्स को 1600 से 2000 करोड़ रुपये का लोन बांटा जाएगा।

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होंने मुख्यमंत्री के पिता के निधन पर शोक व्यक्त किया है और मध्यम वर्ग, किसानों, छोटे और मझोले उद्योगों को मदद समेत कर्मचारियों के लिए राहत भरे कदम उठाने के सुझाव दिए हैं। उनके दिए सुझावों में प्राइवेट स्कूलों की फीस माफी, होम लोन की ब्याज दर शून्य करने, जमा करने की बाध्यता को 6 महीने तक स्थगित करने, किसानों के 4 महीनों के ट्यूबवेल और घर की बिजली का बिल माफ करने जैसे कई सुझाव हैं।

प्रियंका की चिट्ठी पर भाजपा के कई सांसदों ने जवाब दिए हैं। कानपुर के सांसद सत्यदेव पचौरी ने कहा कि यह देखकर अच्छा लगा कि देश की आजादी के बाद से गरीबों के हक का पैसा लूटने वाले आज नसीहत दे रहे हैं। कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक ने लिखा कि प्रियंका ऐसी ही एक- चिट्ठी महाराष्ट्र, राजस्थान, पंजाब, छत्तीसगढ़ के लिए भी लिख दें। फर्रुखाबाद से सांसद मुकेश ऱाजपूत ने कहा कि अनुभवहीन नेता की सलाह की कोई जरूरत नहीं है

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि कोरोना महामारी से निपटने में डबल इंजन की सरकार फेल है। उन्होंने कहा है कि यूपी सरकार को तुरंत सर्वदलीय बैठक बुलानी चाहिए और कोरोना की रोकथाम के लिए सभी दलों के नेताओं से सहयोग और राय लेनी चाहिए

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुजफ्फरनगर बस हादसे में प्रवासी मज़दूरों की मौत पर दुख जताया है। उन्होंने कहा कि पहले ट्रेन और अब बस हादसा, मज़दूरों की ज़िंदगी इतनी सस्ती क्यों. ‘वंदे भारत मिशन’ में क्या देश की गरीब जनता नहीं आ सकती. इतना ऊपर भी उड़ना ठीक नहीं कि ज़मीन की सच्चाई की उपेक्षा हो जाए.