दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन

46
SHARE

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का आज शनिवार 20 जुलाई को निधन हो गया। 81 वर्षीय शीला दीक्षित कुछ दिनों से बीमार थीं। शीला दीक्षित का दिल्ली के एस्कॉर्ट अस्पताल में निधन हो गया।

फिलहाल कांग्रेस ने उन्हें दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दे रखी थी। वे दिल्ली की तीन बार 15 साल तक मुख्यमंत्री रहीं। अपने निधन से कुछ दिनों पहले तक वह राजनीति में खासी सक्रिय थीं और हाल ही में उन्होंने दिल्ली में नए जिला अध्यक्षों की नियुक्ति भी की थी। इतना ही नहीं कांग्रेस पार्टी दिल्ली के आगामी विधानसभा चुनावों में उन्हें मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर उतारने की तैयारी में भी थी।

शीला दीक्षित का जन्म 31 मार्च 1938 को पंजाब के कपूरथला में हुआ था। शीला दीक्षित ने पहली बार 1984 में यूपी में कन्नौज से चुनाव लड़ा और जीता था। 1998 में वे दिल्ली की मुख्यमंत्री बनीं और लगातार तीन बार मुख्यमंत्री रहीं, वह 2013 तक इस पद पर रहीं। 2014 में उन्हें केरल का राज्यपाल बनाया गया था। हालांकि बाद में उन्होंने इस्तीफा दे दिया था और 2017 के यूपी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने उन्हें मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर प्रचारित किया था। इस साल लोकसभा चुनाव में वह उत्‍तर-पूर्व दिल्‍ली से लोकसभा चुनाव लड़ीं थीं, हालांकि उन्हें भाजपा के मनोज तिवारी के सामने हार का सामना करना पड़ा था।

शीला दीक्षित को को हमेशा से गांधी-नेहरू परिवार का करीबी माना जाता था। उनके बेटे संदीप दीक्षित भी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता है।