राम मंदिर पर ओम प्रकाश राजभर ने सीएम योगी के लिए यह कहा

101
SHARE

यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री होते हुए भी लगातार भाजपा पर सियासी हमले करने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने एक बार फिर से जुबानी तीर छोड़े हैं और इस बार उनके निशाने पर सीधे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैं।
ओम प्रकाश राजभर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर राम मंदिर मसले को लेकर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया है। बलिया जिले के रसड़ा स्थित आवास पर सोमवार को प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री राजभर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एक निजी टेलीविजन चैनल को दिये इंटरव्यू में राम मंदिर मसले का हल 24 घंटे में निकाल देने के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया।
ओम प्रकाश राजभर का कहना था कि भाजपा केंद्र में अपने पांच वर्ष के शासन में राम मंदिर मसले का हल नहीं निकाल सकी तो योगी 24 घंटे में क्या कर लेंगे। उनका कहना था कि भाजपा की केंद्र से लेकर उत्तर प्रदेश तक में सरकार है, उसे राम मंदिर बनाने के लिये रोका किसने है।
प्रियंका गांधी को कांग्रेस महासचिव बनाये जाने के मसले पर उनका कहना था कि प्रियंका कांग्रेस के वोट में कितना इजाफा करने में सफल होंगी, यह तो समय बतायेगा, लेकिन यह सही है कि प्रियंका के महासचिव बनने के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश का संचार हुआ है। उन्होंने राहुल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रधानमंत्री पद की दावेदारी को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के लिए कहा कि जनता मालिक है, वह जिसे चाहेगी वही प्रधानमंत्री बनेगा, हर व्यक्ति में गुण होता है, राहुल में भी है, जिस तरह वर्तमान समय में केंद्र सरकार चल रही है, राहुल भी उसी तरह सरकार चलाएंगे।
बताते चलें कि राजभर ने पिछड़ों को मिल रहे आरक्षण में अतिपिछड़ों के लिए अलग कोटा तय करने की मांग को लेकर बीजेपी को 100 दिनों का अल्टीमेटम दिया हुआ है। उनका कहना था कि भाजपा के साथ उनके पार्टी के गठबंधन का 24 फरवरी आखिरी दिन होगा। उन्होंने भाजपा पर पिछड़े वर्ग को धोखा देने का आरोप लगाया और दावा किया कि लोकसभा के आगामी चुनाव में सवर्ण तथा पिछड़े वर्ग के बीच राजनैतिक संघर्ष होगा और पिछड़े वर्ग सपा-बसपा गठबंधन के साथ होंगे।