सपा से गठबंधन में कांग्रेस को मिली ये विधानसभा सीट, राहुल गांधी ने झोंकी पूरी ताकत।

22
SHARE

विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी से हुए गठबंधन के तहत झांसी सीट कांग्रेस के खाते में गई है। इस सीट पर कांग्रेस ने एकदम नए चेहरे के रूप में युवाओं की राजनीति करने वाले 33 वर्षीय राहुल राय को चुनाव मैदान में उतारा है। राहुल राय दिल्ली विश्वविद्यालय से बीए ग्रेजुएट हैं। उन्होंने टिकट के दावेदार माने जा रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य व कांग्रेस जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर तिवारी जैसे तमाम पुराने-पुराने कांग्रेसियों को पीछे छोड़ते हुए टिकट हासिल करने में कामयाबी पाई है। अब इस सीट पर उनका मुकाबला भाजपा के मौजूदा विधायक रवि शर्मा और बसपा के उम्मीदवार और पिछले चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे सीताराम कुशवाहा से होगा।

राहुल गांधी से संपर्क का मिला लाभ
झांसी सीट पर कांग्रेस का टिकट हासिल करने वाले राहुल राय को युवाओं की राजनीति करने और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से सीधे संपर्क का लाभ मिला है। गौरतलब है कि किसान यात्रा के दौरान जब पिछले दिनों राहुल गांधी झांसी आए थे, तब राहुल राय ने युवाओं का प्रतिनिधित्व करते हुए बिपिन बिहारी इंटर कालेज के सामने यूथ स्टॉल बनाया था। यहां पर रुककर राहुल गांधी ने युवाओं को संबोधन भी दिया था। इसके बाद यहां से जालौन जिले की सीमा में जाते वक्त राहुल गांधी ने रास्ते में एक ढाबे पर रुककर चाय पी थी। तब भी राहुल राय की उनके साथ वाली तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं।
अंबावाय में है इंजीनियरिंग कालेज
झांसी से कांग्रेस का टिकट हासिल करने वाले राहुल राय का इंजीनियरिंग कॉलेज अंबावाय में है। यहां पर एसआर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स के नाम से उनकी शिक्षण संस्थाएं हैं। इसके अलावा दिल्ली और वहां के नेताओँ से राहुल के जुड़ाव ने उनके टिकट की राह आसान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
राहुल का राजनीतिक सफर
राहुल राय दिल्ली विश्वविद्यालय के दयाल सिंह कालेज में 2002 से 2005 तक अध्ययन के दौरान 2002 में छात्र संघ उपाध्यक्ष बने, 2003 में छात्रसंघ अध्यक्ष और 2004 में दोबारा अध्यक्ष चुने गए। इसी दौरान राहुल दिल्ली विश्वविद्यालय के 54 कालेजों के चीफ एक्जीक्यूटिव काउंसर चुने गए। 2006-07 में वे भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (फॉरेन अफेसर) के चेयरमैन चुने गए। राहुल 2007 से 2011 तक भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन में उत्तर प्रदेश से जुड़े रहे। राहुल राय 2011 में युवा कांग्रेस के बुंदेलखंड प्रदेश अध्यक्ष चुने गए, तब से इसी पद पर काम कर रहे हैं।