देश आन-बान और शान से मना रहा है 68वां गणतंत्र दिवस

42
SHARE

भारत आज हर्षोउल्लास से अपने 68वें गणतंत्र दिवस का जश्न मना रहा है। संपूर्ण देश, देशभक्ति के रंग में सराबोर है। उत्साह और उमंग से लवरेज भारतवासी बड़ी तादाद में राजपथ पर परेड देखने के लिए पहुंचे हैं। पूरा विश्व राजपथ पर भारत की सैन्य शक्ति, विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धता और सांस्कृतिक विविधता का गवाह बनने जा रहा है। इस साल गणतंत्र दिवस में मुख्य अतिथि अबु धाबी के शहजादे मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान है।

लाइव अपडेट
10:06 बजे-गणतंत्र दिवस परेड शुरू हो गई है राजपथ पर मनमोहक झाकियां निकल रही हैं।
10:02 बजे- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जीदेश के वीर सपूतों को सम्मानित कर रहे हैं।
9:57 बजे- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्य अतिथि नाहयान और राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का स्वागत किया।
9:55 बजे- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और मुख्य अतिथि अबु धाबी के शहजादे का काफीला मुख्य समारोह स्थल पर पहुंचा।
( राष्ट्रपति का काफीला)
9:50 बजे- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समारोह स्थल पर पहुंच गए हैं।
( भारत के मुख्य न्यायाधिश से हाथ मिलाते प्रधानमंत्री)
9:47 बजे- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का काफिला राष्ट्रपति भवन से राजपथ की तरफ निकला।
9:30 बजे- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने रायपुर में गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लिया और परेड को सलामी दी।
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राष्ट्रध्वज को सलामी देते हुए।
– बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी कार्यालय में राष्ट्र ध्वज फहराया।
90 मिनट की परेड में 23 झांकियां बिखेरंगी खूबसूरती की झलक
गणतंत्र दिवस कार्यक्रम की शुरुआत सुबह 9.30 बजे होगी। अमर जवान ज्योति पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और तीनों सेनाओं के प्रमुख देश के शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री राजपथ पहुंचेंगे। राजपथ पर राष्ट्रपति तिरंगा झंडा फहराएंगे और फिर राष्ट्रगान होगा। राष्ट्रगान के बाद सबसे पहले अशोक च्रक विजेता जवान हंगपंग दादा को वीरता का सबसे बड़ा सम्मान मरणोपरांत दिया जाएगा, जिसे उनकी पत्नी स्वीकार करेंगी। राजपथ पर परेड शुरु हो जाएगी। इस बार कुल 90 मिनट की परेड होगी। परेड में इस बार 23 झांकियां होंगी। इनमें से 17 राज्यों की और छह मंत्रालय और विभाग की होंगी।
धनुष तोप पहली बार परेड में शामिल, 60 हजार पुलिसकर्मी दिल्ली की सुरक्षा में तैनात
इस बार गणतंत्र दिवस परेड में एनएसजी का दस्ता, स्वदेशी फाइटर प्लेन तेजस, हेलिकॉप्टर ध्रुव और रूद्र भी करतब दिखाएंगे। देशी बोफोर्स के नाम से मशहूर धनुष तोप भी परेड में पहली बार शामिल किया गया है। विंग कमांडर रमेश कुमार दुबे के नेतृत्व में परेड की शुरुआत होगी। चार एमआई-17 हेलिकॉप्टर आकाश से पुष्प वर्षा करेंगे। इनमें से एक हेलिकॉप्टर तिरंगा लेकर उड़ेगा, जबकि तीन अन्य हेलिकॉप्टरों पर सेना, नौसेना और वायु सेना की पताका फहराएगी। परेड का सबसे बड़ा आकर्षण भारत के एकमात्र कैवेलरी का अपने प्रतापी घोड़ों के साथ मार्च होगा। राजधानी की सुरक्षा के लिए करीब 60 हजार जवान तैनात किए गए हैं। 15 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।