साधु-संतों को बेरहमी से मौत के घाट उतारा गया, एक वकील को भी बेरहमी से मौत के घाट उतारा

154
SHARE

साधु-संतों पर आज कुछ लोगो ने अमानवीय यातनाओं की हदें पार कर दी। पश्चिम उत्तर प्रदेश में कुछ लोगो बागपत के किरठल गांव में तपस्यारत साधु का शरीर गर्म सरियों से जगह-जगह दागा गया। मथुरा में तो सारी हदें पार करने के बाद मोहन संन्यास आश्रम महंत की हत्या कर दी गई। इसी आश्रम में एक वकील को भी बेरहमी से मौत के घाट उतारा गया।

 

वृंदावन के गोधूलिपुरम स्थित मोहन संन्यास आश्रम में अधिवक्ता की सनसनीखेज तरीके से हत्या कर दी गई। इसके बाद महंत का शव फंदे पर लटका मिला। आश्रम से एक छात्र लापता है। मोहन संन्यास आश्रम में अलीगढ़ निवासी पीयूष पढ़ता है। उसका भाई अखिलेश उससे मिलने आज सुबह आठ बजे पहुंचा। यहां उसे महंत राजेंद्रानंदपुरी मिले। उन्होंने पीयूष के सब्जी लेने जाने की जानकारी दी। एक घंटे बाद वह नहीं लौटा तो अखिलेश ने आश्रम में प्रवेश करना चाहा। महंत ने उसे यह कहकर रोका कि पीयूष अभी नहीं आया है। अखिलेश को अनहोनी की आशंका हुई। सूचना देने पर पुलिस को पहुंचने में चार घंटे लग गए। जब पुलिस पहुंची तो देखकर दंग रह गई। 50 वर्षीय महंत राजेंद्रानंद फांसी के फंदे पर झूल रहे थे तो दूसरे कमरे मे 55 वर्षीय अधिवक्ता प्रभाष का रक्तरंजित शव पड़ा था। पीयूष का पता नहीं लगा। एसएसपी मोहित गुप्ता और एसपी सिटी अशोक कुमार ने बताया कि छात्र की तलाश को टीम गठित कर दी हैं|

 

बागपत के रमाला थाना क्षेत्र के किरठल गांव में तपस्यारत एक साधु के शरीर को गर्म सरियों से कई जगह दागा। गुप्तांग को भी गर्म सरिये से जख्मी कर दिया। पुलिस के सीएचसी में भर्ती कराने के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर किया गया है। किरठल गांव निवासी सूबेराम घर-परिवार छोड़ साधु बन गया था। गांव में कुटिया बना तपस्या कर रहा था। परिवार के अन्य सदस्य दिल्ली में रहते हैं। पीडि़त के मुताबिक, रात्रि में कुटिया में छह असामाजिक तत्व घुस गए, जहां उन्होंने शराब पी। विरोध किया तो पिटाई शुरू कर दी। बंधक बना पीटा। इसी बीच दो आरोपियों ने वहां पड़े सरियों को गर्म किया और साधु के शरीर को कई जगह दाग दिया। शोर मचाने पर मुंह में कपड़ा और फिर गर्म सरिया नाजुक अंगों में डाल दिया और भाग गए। पुलिस ने घायल साधु को सीएचसी में भर्ती कराया। उसकी हालत गंभीर है। थाना प्रभारी शरद तलारा ने बताया कि अभी तक तहरीर नहीं मिली है। मुकदमा दर्ज करने की तैयारी है|