ऐसा हुआ तो उपेंद्र कुशवाहा देंगे नीतीश कुमार का साथ

36
SHARE

बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और पूर्म केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की सियासी दुश्मनी जगजाहिर है। उपेंद्र कुशवाहा आज एनडीए से बाहर हैं तो उसकी बड़ी वजह नीतीश कुमार ही हैं। कुशवाहा कई बार आरोप लगा चुके हैं कि नीतीश उनकी पार्टी को खत्म करना चाहते हैं। बहरहाल इतना होने पर भी एक मसला ऐसा है जिस पर उपेंद्र कुशवाहा, नीतीश कुमार का समर्थन करने को तैयार हैं।

पटना में रालोसपा के प्रदेश पदाधिकारियों और जिलाध्यक्षों की बैठक के बाद माडिया से बातचीत में उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार के लिए विशेष दर्जे की मांग को जेडीयू अगर आगे बढ़ाता है तो सारे विरोधों के बावजूद राज्यहित में इस मुद्दे पर उनकी पार्टी साथ देगी। इसके लिए केन्द्र सरकार के पास राज्य का प्रतिनिधिमंडल जाएगा तो इसके लिए भी उनकी पार्टी तैयार है। उन्होंने कहा कि जेडीयू की ताकत संसद में बढ़ी है, उसके 16 सांसद हैं। अब राज्य के हक के लिए लड़ना चाहिए। 

इस दौरान कुशवाहा ने कहा कि भाजपा ने चुनाव में जनता को गुमराह कर वोट लिया। उन्होंने कहा कि हम हार से हतोत्साहित नहीं हैं, नई ऊर्जा के साथ विधानसभा चुनाव लड़ेगे। पार्टी के नेता व कार्यकर्ता विधानसभा चुनाव की तैयारी के लिए अब गांवों में जाएंगे।