चुनाव नतीजों के पांच दिन बाद फिर सक्रिय हुए ओम प्रकाश राजभर, दोहराई यह मांग

1391
SHARE

लोकसभा चुनाव नतीजे मन मुताबिक नहीं आने से यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर कुछ दिन चुप रहे लेकिन वह अब फिर से मुखर हुए हैं। बाराबंकी में जहरीली शराब से 12 से ज्यादा लोगों की मौत के बाद ओम प्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश में शराबबंदी की अपनी पुरानी मांग दोहराई है।

ओम प्रकाश राजभर ने कहा है कि हमने यूपी मे शराब पूर्ण रूप से  बन्द करने की मांग हमेशा की है लेकिन सरकार अपने राजस्व के चक्कर मे न जाने कितनी जिन्दगी को तबाह कर रही है। राजभर ने पीएम मोदी को संबोधित करते हुए कहा है कि मा[email protected] जी वास्तव में गुजरात मॉडल लागू करना चाहते है तो यूपी में पूर्ण रूप से शराब को बंदी कीजिये ताकि उजड़ते परिवार बच सके।

बताते चलें कि ओम प्रकाश राजभर जब यूपी सरकार का हिस्सा थे तब भी वह उत्तर प्रदेश में शराबबंदी की मांग करते रहे हैं। वह गुजरात और बिहार की तरह ही यूपी में भी शराबबंदी की मांग करते रहे हैं। उनकी मांग अपनी जगह सही है हालांकि एक बड़ा तथ्य यह भी है कि शराब से सरकार को भारी राजस्व मिलता है जो तमाम विकास योजनाओं में खर्च होता है, साथ ही यह भी सर्वविदित है कि गुजरात और बिहार में जब तब शराब की खेप पकड़ी जाती है जो इशारा है कि चोरी-छिपे इन राज्यों में शराब का सेवन होता ही है। ऐसे में यूपी जैसे बड़े राज्य में शराबबंदी कितनी कारगर होगी यह बहस का भी मुद्दा है।