मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में प्रियंका गाँधी की हुंकार, लखीमपुर की घटना के बारे में ये कहा

45
SHARE

रविवार को वाराणसी दौरे पर पहुंचीं. प्रियंका गांधी ने बनारस में किसान न्याय रैली को संबोधित करते हुए यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार पर जमकर हमला बोला. प्रियंका ने कहा कि लखीमपुर खीरी केस में पीड़ित परिवारों को पैसे नहीं बल्कि न्याय चाहिए. लेकिन पीड़ित किसान परिवारों को यूपी में इंसाफ की कोई उम्मीद नहीं है. कांग्रेस महासचिव ने ये भी आरोप लगाया कि योगी आदित्यनाथ सरकार ने कोरोना काल के दौरान जरूरतमंदों पर ही कार्रवाई की. उन्होंने कहा कि हाथरस केस में भी न्याय नहीं हुआ था. 

प्रियंका ने कहा कि किसान के बेटे ही सीमा पर देश की हिफाजत भी कर रहे हैं. देश को आजादी भी न्याय के सिद्धांत के आधार पर ही मिली है. तमाम कृषि उपकरणों पर जीएसटी लगाने से भी किसान परेशान हुए हैं. देश में बेरोजगारी चरम स्तर पर पहुंच गई है. 

इससे पहले उन्होंने बनारस के प्रसिद्ध काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन किया, जहां मंत्रोच्चार के बीच उन्होंने पूजा अर्चना की. वो दुर्गा मंदिर भी गईं. पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में कांग्रेस की न्याय रैली ऐसे वक्त हो रही है, जब लखीमपुर खीरी कांड का मुद्दा सुर्खियों में है. माना जा रहा है कि प्रियंका गांधी किसान न्याय रैली में किसानों से जुड़े मुद्दे पर यूपी औऱ केंद्र की सरकार को घेरेंगी. साथ ही लखीमपुर खीरी मामले को लेकर भी किसानों (Farmers protest) से जुड़ी समस्याओं पर अपनी बात रखेंगी. 

प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी कांड के बाद सबसे पहले वहां जाने वाली नेताओं में थीं. हालांकि उन्हें लखीमपुर खीरी के पहले ही सीतापुर जिले के हरगांव में गिरफ्तार कर लिया गया था. प्रियंका गांधी वहां करीब दो दिन हिरासत में रही थीं. बाद में प्रियंका औऱ राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने लखीमपुर खीरी में पीड़ित किसान परिवारों से मुलाकात की. 

बनारस में जगतपुर डिग्री कॉलेज में प्रियंका गांधी अपनी रैली से पहले बाबतपुर एयरपोर्ट से लगभग 30 किलोमीटर सड़क मार्ग से परिक्रमा कर रैली स्थल पर पहुंचेंगी. इस दौरान वह बनारस के 6 विधानसभा क्षेत्रों से गुजरेंगी. इसमें पिंडरा विधानसभा क्षेत्र से शुरुआत कर शिवपुर उत्तरी दक्षिणी कैंट होते हुए फिर रोहनिया पहुंचेंगी. इस दरमियान वह बाबा विश्वनाथ के मंदिर में दर्शन करेंगी. फिर दुर्गाकुंड इलाके में मां दुर्गा का दर्शन और फिर रैली स्थल पर जाएंगी. इस दौरान रास्ते में जगह-जगह प्रियंका गांधी के स्वागत की तैयारी भी है.

वाराणसी के रोहनिया के जगतपुर डिग्री कॉलेज के मैदान में प्रियंका गांधी किसान न्याय रैली के लिए तैयारियां पूरी हो गई हैं. बड़े-बड़े होर्डिंग प्रियंका गांधी और राहुल गांधी के लगाए गए हैं.  कोशिश की जा रही है कि 2022 के यूपी विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को पूरी तरीके से मजबूत किया जाए ताकि जनता का साथ कांग्रेस को मिल सके.