राजभर बोले 17 अतिपिछड़ी जातियों को गुमराह कर रही भाजपा सरकार

42
SHARE

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर फिर से एक्शन मोड में आ गए हैं। राजभर ने आगामी उपचुनावों के सिलसिले में बहराइच में सुभासपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की वहीं राजभर समेत 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने के योगी सरकार के फैसले को शिगूफा करार दिया।

बहराइच जिले में आने वाली बलहा विधानसभा सीट पर जल्दी ही उपचुनाव होने हैं। सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। रविवार को उन्होंने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर अब तक की तैयारियों का जायजा लिया और आगे के लिए निर्देश दिए।

इसके बाद सोमवार सुबह उन्होंने योगी सरकार पर निशाना साधा। सोशल मीडिया के जरिए उन्होंने कहा है कि ‘ उत्तर प्रदेश में 17 अतिपिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल का शिगूफा छोड़कर सरकार इन 17 जातियों को गुमराह कर उपचुनाव में वोट लेने की तैयारी कर रही है अगर @myogiadityanath जी वास्तव में इन जातियों का विकास करना चाहते है तो आपके पास… सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट 8 महीने से पड़ी है इसको तत्काल लागू कर आगे जो भी भर्ती हो उसमे अतिपिछड़ों,की भागीदारी सुनिश्चित करें’

ओम प्रकाश राजभर का कहना है कि ‘ 17 अतिपिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करना राज्य सरकार का काम नही है यह लोकसभा,राज्यसभा,RGI,से पास कराकर,राष्ट्रपति जी का मोहर लगवावे,व पिछड़ी जाति से इन जातियों को बाहर कर पहले से निर्धारित SC कोटे को बढ़ाये तभी यह जातियां अनुसूचित जाति में जाएगी तो SC का लाभ मिलेगा’।

अतिपिछड़ी 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने का योगी सरकार का फैसला सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक लिहाज से बेहद अहम है। यह इन जातियों के सामाजिक और आर्थिक विकास पर सीधा असर डालेगा वहीं वोटबैंक के लिहाज से इसके अपने नफा-नुकसान हैं, लिहाजा यह मुद्दा अभी काफी गरमाने वाला है।