आधिकारिक लापरवाही:20 किसानों की 60 बीघा फसल जलकर राख, देखते रह गए किसान

111
SHARE

सुल्तानपुर. यूपी की योगी सरकार किसानों के कर्ज़माफी स्कीम को लेकर अब तक बैकफुट पर ही है, उस पर से कभी दैवीय आपदा तो कभी शाट-सर्किट से तबाह हो रही फसल ने किसानों की कमर तोड़कर रख दिया है। ऐसे में जब किसान कर्ज़दार हो और उस घड़ी फसल बर्बाद हो जबकि संसाधन मौजूद हो लेकिन आधिकारिक लापरवाही के कारण न पहुँचे तो उस वक़्त किसान अपने को ठगा सा महसूस कर रहा होता है। आज जयसिंहपुर कोतवाली के बिरसिंहपुर गाँव में 20 किसानों की कहानी कुछ ऐसी ही है। जिनकी 60 बीघा फसल उनकी आँखों के सामने जलकर राख होती रही और किसान देखते रहे। *ये है पूरा मामला*

गुरुवार का दिन जयसिंहपुर कोतवाली के बिरसिंहपुर गाँव में 20 किसानों के लिए काला दिन बनकर आया था।
वो इस तरह के दोपहर को खेत से निकल रहे खम्भे जिस पर बिजली के तार गए थे इत्तेफ़ाक से उसमें सप्लाई आ रही थी।
सप्लाई आ रहे बिजली के तार में शाट-सर्किट हुई और इसकी चिंगारी
जमुना पुत्र फगुनी के खेत में गिर गई।
फिर क्या था? तेज हवा के चलते आग ने विकराल रूप ले लिया नतीजतन आसपास के 20 किसानों के खेतों की फसल इसका शिकार बनी।

*इन किसानों की हुई बर्बाद फसल*
गाँव वालों की मानें तो शाट-सर्किट से लगी इस आग से जमुना, जंगली,
रामदोर, जयसराज, कालिका, श्रीराम, मो.हनीफ, मो. जलील, छोटेलाल, अच्छे लाल, हरिराम,
रामभवन, हरिराम चौरसिया,
फर्सन, सत्यनरायण, चन्द्रावती की   लगभग 60 बीघा गेंहू की फसल जल कर राख हो गयी।
वहीं आग से श्रीराम हरिजन का ट्युबेल भी जल कर राख हो गया।

*योगी सरकार पर उठे ये सवाल*
इस तरह एक पल में अपनी फसल उजड़ता देख किसान मचल गया।
लोगों ने आग रोकने का प्रबंध भी किया लेकिन हवा के झोंकों में ये आग रुकती कैसे?
ग्रामीणों को फसल के तबाह होने का ग़म तो बेहद है लेकिन उससे भी ज़्यादा तकलीफ ग्रामीणों को इस बात की है कि सूचना देने के बाद भी फायर बिर्गेड की टीम मौके पर नहीं पहुँची।
जिसके बाद बड़ा सवाल ये खड़ा हुआ के यूपी की योगी सरकार किसान का कर्ज़ क्या माफ करेगी जो सबके विकास का नारा सबको राहत और बचाव नहीं दे सकती?

*लेखपाल को भेज अधिकारियों ने झाडा पल्ला*
उधर घटना के घंटों बाद मौके पर हल्का लेखपाल राम प्रकाश उपाध्याय ने मौके पर पहुँच कर फसल के नुकसान का जायजा लिया।
उन्होंने इस बात की जानकारी उच्च अधिकारियों को दिया।

*कागजी कोरम पूरा कर लौटी पुलिस*
वहीं जयसिंहपुर कोतवाली के एस. आई. सरफराज खान भी कुछ समय के बाद अपने हम राहियों के साथ मौके पर पहुँचे। कर नुकशान का जायजा लिया।
उन्होंने कहा नुकसान के लिए अधिकारियों को बताया गया है जल्द ही मदद भी दिलाई जाएगी।
बस इस कागजी कोरम के बाद वो भी लौट लिए।