यह आपसी सहमति से होता है, कम से कम लोगों को रोजी-रोटी तो प्रदान करता है

110
SHARE

मशहूर बॉलीवुड कोरियोग्राफर सरोज खान ने कास्टिंग काउच को लेकर कहा कि यह आपसी सहमति से होता है और कम से कम लोगों को रोजी-रोटी प्रदान करता है.

कास्टिंग काउच से जुड़े सवाल पर कोरियोग्राफर सरोज खान ने कहा, “यह बाबा आदम के जमाने से चला आ रहा है. हर लड़की के ऊपर कोई न कोई हाथ साफ करने की कोशिश करता है. सरकार के लोग भी करते हैं. तुम फिल्म इंडस्ट्री के पीछे क्यों पड़े हो? वो कम से कम वो रोटी तो देती है. रेप करके छोड़ तो नहीं देती.”

कोरियोग्राफर ने कहा, “ये लड़की के ऊपर है कि तुम क्या करना चाहती हो. तुम उसके हाथ में नहीं आना चाहती हो तो नहीं आओगी. तुम्हारे पास आर्ट हो तो तुम क्यों बेचोगी अपने आप को? फिल्म इंडस्ट्री को कुछ मत कहना, वो हमारा माई-बाप है.”