आगरा के पास भीषण बस दुर्घटना, 29 लोगों की मौत

99
SHARE

आगरा के पास यमुना एक्सप्रेस वे पर सोमवार को भीषण बस हादसे में 29 लोगों की मौत गई। यूपी परिवहन निगम की लखनऊ से दिल्ली जा रही अवध डिपो की जनरथ एक्सप्रेस बस नाले में गिर गई। हादसे में दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि बस की रफ्तार काफी तेज थी और यह एक्सप्रेस वे के किनारे बने रेलिंग तोड़ते हुए 50 फीट गहरे नाले में जा गिरी। हादसे के वक्त बस में 50 से ज्यादा लोग सवार थे।

यमुना एक्सप्रेस वे पर हुए इस हादसे की जानकारी मिलने के बाद प्रशासन और पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई। बस को नाले से निकाला गया। घायलों को आगरा के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुर्घटना की जांच एक कमेटी से कराने के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री के टि्वटर अकाउंट पर कहा गया है कि ‘योगी आदित्यनाथ ने जनपद आगरा में हुई सड़क दुर्घटना पर शोक व्यक्त किया व घायलों को हर संभव चिकित्सा सहायता प्रदान करने के लिए प्रशासन को निर्देश दिए हैं. उन्होंने दिवंगत लोगों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है’

यूपी पुलिस की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक ‘यमुना एक्सप्रेस-वे पर, इटावा से दिल्ली जा रही अवध डिपो की जनरथ एक्सप्रेस रोडवेज बस सं. यूपी 33 एटी 5877 अनियंत्रित होकर ग्राम कुबेरपुर के पास झरना नाला में गिर जाने से पानी के अन्दर आधी डूब गयी। 27 शव निकाले गये तथा करीब 15-16 लोगों घायल अवस्था में निकाल कर अस्पताल भेजा गया है’। पुलिस की तरफ से दिए गए यह शुरूआती आंकड़े थे, बाद में मृतकों की संख्या 29 बताई गई।

हादसे की वजह साफ नहीं है लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि ड्राइवर को झपकी आने से यह हादसा हुआ, जिस वक्त हादसा हुआ, बस की रफ्तार भी काफी तेज बताई जा रही है। लोगों के सामान से मृतकों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है, साथ ही घायलों के परिजनों को भी सूचित किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश परिवहन निगम ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा देना का ऐलान किया है।

इस हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत तमाम नेताओं ने शोक जताया है।